नया भारत , नया सवेरा

  • :
Surya Samachar

Breaking News

आज दिल्ली के तालकटोरा स्टेडिम में संतों के महासम्मेलन का दूसरा दिन, क्या बनेगा राम मंदिर!


04-11-2018 15:32:36 PM
modi
suryasamachar.com [Edited by: surya samachar]

इस वक्त देश का सबसे बड़ा विवाद अयोद्धा का राम मंदिर है. जिसके चलते देश में सियासी माहौल गरमा गया है. इस वक्त दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में 2 दिवसीय धर्मादेश कार्यक्रम आयोजन चल रहा है. जो आज यानी रविवार को खत्म किया जाएगा. इस आयोजन में देशभर के लगभग 3 हजार से भी ज्यादा साधू संत आए हुए है, और इस कार्यक्रम का नाम धर्मादेश संत महासम्मेलन रखा गया है. इस बीच आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे. राम मंदिर के बारे में पूछे जाने पर रविशंकर ने कहा कि वो हमेशा से ही इसके पक्ष में है. और आज भी सभी पक्षों के बीच सुलह की कोशिशें जारी रखी गई है. इससे ज्यादा पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि पहले संतो से बातचीत की जाएगी और उसके बाद ही कोई टिपण्णी संभव है.

इस दौरान कार्यक्रम में पहुंचे स्वामी रामभद्राचार्य ने भी अपने विचार रखें. उन्होंने कहा कि अब सब्र का बाण टूट रहा है. मंदिर बनाने के लिए 2 ही रास्ते है या तो अध्यादेश या फिर सौहार्दपूर्ण माहौल. वही स्वामी ने कहा कि जब SC को राम मंदिर के लिए फैसला लेना होगा यह एक धार्मिक आस्था का मामला है. उन्होंने कहा SC का सम्मान किया जाता है लेकिन राम मंदिर तो हिन्दुओं का अधिकार है और अगर 2019 चुनाव से पहले राम मंदिर नहीं बनवाया जाता है तो भगवान् उन्हें इसकी सजा भी देगा.

दूसरी तरफ धर्मादेश कार्यक्रम में पहुंचे विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने केंद्र सरकार और SC के कर्तव्यों को याद दिलाते हुए कहा कि केंद्र सरकार और SC के पास अधिकार है लेकिन वो अपने कर्तव्यों का पालन नहीं कर रहे है. वही अखिल भारतीय संघ समिति के स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि देश में इस बीच कई अहम फैसले लिए गए है. उन्होंने कहा कि आदर्श व्यक्ति चाहे वो सरदार हो चाहे राम उनकी प्रतिमा के खिलाफ देश नहीं जाएगा, लेकिन सिर्फ विनाशकारी तत्व ही इसके खिलाफ जा सकती है.